आर्थिक पैकेज के लिए पंजाब देश के शेष राज्यों से सब से अधिक हकदार-मुख्यमंत्री
Templates by BIGtheme NET

आर्थिक पैकेज के लिए पंजाब देश के शेष राज्यों से सब से अधिक हकदार-मुख्यमंत्री

Must Share With Your Friends...!
– देश के लिए बड़ा योगदान देने के बदले विशेष आर्थिक पैकेज पंजाब का अधिकार 
– भारत सरकार के समक्ष मामला उठाया जायेगा 
– कै प्टन कांग्रेस के लिए लोकप्रिय नेता हो सकता है पर गठबंधन के लिए नही 
– अमरिंदर और भठ्ठल के बयानों को गुमराहकुन बताया
– लंबी विधानसभा क्षेत्र में संगत दर्शन कार्यक्रम 
बीदोवाली (श्री मुक्तसर साहिब),  राज्य को विशेष आर्थिक पैकेज दिये जाने की मांग को दोहराते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री स. प्रकाश सिंह बादल ने कहा कि पंजाब देश के शेष राज्यों से यह पैकेज़ प्राप्त करने का सबसे अधिक अधिकार रखता है। आज लंबी विधानसभा क्षेत्र में संगत दर्शन प्रौग्राम दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य ने राष्ट्रीय आज़ादी संघर्ष में बड़ा योगदान देने के अतिरिक्त देश को अनाज उत्पादन में आत्म निर्भर भी बनाया है। इसके अतिरिक्त विदेशी हमलों से देश की सीमाओं की सुरक्षा की और देश की एकता और अखंडता को संभाल कर रखा। उन्होंने कहा कि राज्य को राष्ट्रीय कार्य के लिए बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है। पंजाब को पहले देश के बटवारे दौरान और उसके बाद आंतकवाद के काले दिनों दौरान भारी चोट पहुंची। स. बादल ने कहा कि इस बड़े योगदान के बावजूद केंद्र में बनने वाली कांग्रेसी सरकारों ने राज्य के योगदान को कभी भी मान्यता नही दी।
S.Parkash Singh Badal in muktsar Area
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के बड़े और शानदार योगदान बदले इस को कोई लाभ देन की बजाये कांग्रेस सरकारों ने पड़ौसी राज्यों को रियायतें देकर पंजाब की आर्थिकता को बड़ी ठेस पहुंचाई है जिसके परिणाम के रूप में उद्योग राज्य से बाहर चला गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को राज्य के समूचे विकास को प्रौत्साहन देने के लिए इसके मामलों पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम केंद्र सरकार से किसी भी रियायत की मांग नही करते बल्कि विशेष आर्थिक पैकेज हमारा अधिकार है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने समय-समय पर राज्य से संबंधित मामले केंद्र सरकार के समक्ष कई बार उठाये हैं और अब फिर वह इन मामलों को केंद्र सरकार के समक्ष उठायेंगे। स. बादल ने कहा कि वह निजी तौर पर भारत सरकार के समक्ष यह मामला रखेंगे ताकि राज्य के लिए विशेष पैकेज़ प्राप्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बिहार की तर्ज पर विशेष पैकेज प्राप्त करने के लिए कोई कसर नही छोड़ेगी।
कै प्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में कांग्रेसी कमान संभालने क ी संभावनाओं के बारे में पूछे गये एक प्रशन के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि इसका उनपर कोई भी असर नही होगा। उन्होंने कहा कि कैप्टन कांग्रेस के लिए सबसे लोकप्रिय नेता हो सकता है परंतु शिअद -भाजपा गठबंधन के लिए। इस गठबंधन ने उसकी अध्यक्षता वाली कांग्रेस को 2007 और 2012 में दो बार हराया है। उन्होंने कहा कि इस गठबंधन को विकास पक्षीय और लोकपक्षीय नीतियों के कारण लोगों का पूरा समर्थन प्राप्त है। इसलिए उनको कोई भी परवाह नही है कि कांग्रेस का राज्य प्रधान कौन है।
चुनावों में शिअद द्वारा दांवपेच समर्थन हासिल करने के लिए दो पूर्व मुख्यमंत्रीयों कैप्टन अमरिंदर सिंह और रजिंदर कौर भठ्ठल के बीच चल रही शब्दी जंग के संबंध में पूछे गये प्रशन के उत्तर में मुख्यमंत्री ने इन बयानों का पूरी तरह खंडन किया है। उन्होंने कहा कि शिअद विरोधी पार्टियों को ना तो समर्थन देता है और ना ही लेता है और यह अपने उम्मीदवारों की जीत को यकीनी बनाने के लिए अपने आधार को स्वयं मज़बूत करता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सीनियर नेताओं के बयान अधारहीन, तर्कहीन और गुमराहकुन हैं।
श्री मनीकरण साहिब में घटित दुखांत के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पहले ही मुख्य सचिव को स्थिति पर लगातार नज़र रखने और हिमाचल प्रदेश की सरकार से लगातार संपर्क बनाके रखने के लिए कहा है ता कि वहां घिरे श्रद्धालुओं को तेजी से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पहले ही एक उच्च स्तरीय टीम को वहां भेजा है और इस संकट की घड़ी में पीडि़त श्रद्धालुओं की सहायता करने में कोई कसर बाकी नही छ़ोड़ी जायेगी।
इससे पहले मुख्यमंत्री ने बीदोवाल, धौला, थ्रराजवाला, लाल बाई, खिओवाली और किलियांवाली में संगत दर्शनों को संबोधन किया। उन्होंने अधिकारियों को खुद गांवों में जाकर लोगों की समस्याओं का पता लगाने के लिए कहा।
मुख्यमंत्री के साथ अकाली नेता श्री परमजीत सिंह लाली, शिअद के सर्कल प्रधान श्री अवतार सिंह वनवाला, चेयरमैन श्री तजिंदर मिडूखेड़ा, चेयरमैन कुलविंदर सिंह भाई का केरा, श्री बिकर सिंह चन्नू, श्री जसविंदर धौला, श्री अक ाशदीप सिंह मिडूखेड़ा, मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव श्री के जे एस चीमा, उपायुक्त जसकिरण सिंह और एस एस पी श्री के एस चाहल उपस्थित थे।
Must Share With Your Friends...!

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*